---Advertisement---

भाजपा का घोषणा पत्र किसी जुमले से कम नही:- सपा प्रत्याशी आनंद भदौरिया

---Advertisement---

हरगांव(सीतापुर): धौरहरा संसदीय सीट पर इस बार विजय पाने के लिए समाजवादी पार्टी ने पूरी ताकत झोंक रखी है। पार्टी के प्रत्याशी, वरिष्ठ नेता और कार्यकर्ता लगातार जन संपर्क कर लोगों को सपा की नीतियों और भावी योजनाओं से अवगत करा रहे हैं। सपा प्रत्याशी भी लगातार नुक्कड़ नाटक एवं जन संपर्क कर पार्टी की रीति और नीति से लोगों को अवगत कराते हुए अपनी बात कह रहे हैं।
इसी क्रम में शुक्रवार को हरगांव विधान सभा क्षेत्र के रीछिन, भदेंवा, मल्लापुर, जोशीटोला, मुद्रासन, कोरैया, अटरा, सुल्तानपुर, बिलरिया, बिजैसेपुर आदि गांवों में सपा प्रत्याशी आनंद भदौरिया ने नुक्कड़ सभाएं की। इस मौके पर उन्होंने भाजपा के घोषणा पत्र को जुमला पत्र बताते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 2014 में दो करोड़ नौकरियां लोगों को नौकरी देने का वादा किया था। इसके साथ ही भाजपा ने किसानों की आय दोगुनी करने, विदेशों से काला धन लाकर जनता के खातों में 15-15 लाख डालने और महंगाई को खत्म करने की घोषणाएं की थी जिसमें से एक भी वादा भाजपा ने पूरा नहीं किया। जिससे लोगों को बड़ा निराश किया है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ने लोगों के खातों में लाखों रुपये डालने का दावा किया उसकी मोदी सरकार ने नोटबंदी के नाम पर महिलाओं के पास जमा बचत की धनराशि भी हड़प ली। मोदी की गारंटी केवल दबाव की राजनीति से भ्रष्टाचारियों को भाजपा में शामिल करने तक सीमित है।
विधायक अनिल वर्मा ने भी केंद्र की मोदी सरकार को निशाने पर रखते हुए कहा, भाजपा के शासनकाल में बड़े-बड़े उद्योगपतियों के हजारों-करोड़ों रुपये के कर्ज माफ हो रहे, जबकि किसानों के 10 हजार रुपये तक के भी कर्ज माफ नहीं किए जा रहे हैं। इससे किसान आत्महत्या कर रहा है। भाजपा जनता को केवल बहकाने का काम कर रही हैं। उन्होंने केंद्र सरकार पर तंज कसते हुए कहा कि जीएसटी से व्यापारी परेशान है। सरकार जीएसटी के नाम पर छोटे व्यापारियों को लूट रही है। भाजपा के 10 साल के शासनकाल में देश का युवा बेरोजगार है। यही नहीं प्रधानमंत्री ने नोटबंदी की थी। इससे फायदा केवल भाजपा को हुआ।
जन सभाओं में विधान सभा क्षेत्र के अध्यक्ष फुरकान खां, विजय वर्मा, नफीस खां, कपिल मिश्रा, नजीर अहमद, राजवीर सिंह, संजीव गुप्ता, सौरभ सिंह, वारिस मंसूरी, दानिश नकवी, लतीफ कुरैशी, अंकुर जोशी, निरंकार जोशी, अमृत यादव, केके जोशी, रिजवान खान, सुरेश यादव कौशल यादव, इसराइल बी डी सी संतोष वर्मा सहित भारी संख्या में ग्रामीण मौजूद रहे।

दीप शंकर मिश्र"दीप":- संपादक

दीप शंकर मिश्र"दीप":- संपादक

पत्रकारिता जगत में एक ऐसा नाम जो निष्पक्ष पत्रकारिता के लिए जाना जाता है।

---Advertisement---
PT 2
PT 4
PT 3
PT 1
P Adv

Leave a comment