---Advertisement---

इस भीषण गर्मी में अपनी फसल को बचाने के लिए गन्ना किसान करें ये जरूरी काम, गन्ना विभाग ने दिए निर्देश।।

---Advertisement---

गन्ना किसान: भीषण गर्मी से गन्ने की फसल पर भी असर होने लगा है। हरी पत्तियां अब पीली पड़ रही हैं। कृषि वैज्ञानिक इसका कारण आयरन की कमी बता रहे हैं। अब गन्ना विभाग व गन्ना समितियां किसानों के पास जाकर फसल में आयरन की कमी दूर करने के उपाय बताएंगे। इन दिनों पारा 45 डिग्री से ऊपर जा रहा है। जहां सिंचाई के बाद भी खेतों की नमी जल्दी खत्म हो जाती है। गन्ने के खेतों में नमी खत्म होने से आयरन की कमी से गन्ने की पत्तियां पीली पड़ने लगी हैं।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार कृषि वैज्ञानिकों का दावा है कि खेत में नमी की कमी, अधिकतम गर्मी की वजह से फसल में आयरन की कमी हुई है। इससे गन्ने की पत्तियां पीली पड़ रही हैं। किसान राधेश्याम, गुरुचरण सिंह, बलविंदर सिंह, हैप्पी सिंह, बब्बू सिंह आदि ने बताया कि इस समय काफी देर तक बिजली कटौती होने के कारण गन्ने की फसल में समय से पानी नहीं लग पा रहा है, जिसके चलते खेत में नमी खत्म होने के साथ-साथ गन्ने की पत्तियां पीली पड़ रही हैं। गन्ने की फसल को लेकर किसान चिंतित है। किसानों का कहना है कि इससे गन्ने की बढ़वार कम होगी। अगर इसी तरह से गर्मी पड़ती रही तो गन्ने के उत्पादन में काफी गिरावट आ जाएगी।
मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक जमुनाबाद कृषि फार्म के कृषि वैज्ञानिक डॉ. जियालाल ने बताया कि भीषण गर्मी पड़ने से पारा बढ़ रहा है जिससे आर्द्रता की कमी आती है। इस समय गन्ने की फसल में सिंचाई करते रहें जिससे नमी लगातार बनी रहे। नमी की कमी के कारण फसल में आयरन की कमी हो जाती है। ऐसी स्थिति में पत्तियां पीली हो जाती हैं।

दीप शंकर मिश्र"दीप":- संपादक

दीप शंकर मिश्र"दीप":- संपादक

पत्रकारिता जगत में एक ऐसा नाम जो निष्पक्ष पत्रकारिता के लिए जाना जाता है।

---Advertisement---
PT 2
PT 4
PT 3
PT 1
P Adv

Leave a comment