---Advertisement---

जब पहुंचे वन विभाग के अधिकारी तब मृतक के परिजनों ने भरने दिया पंचनामा, रेंजर ने कही ये बात।।

---Advertisement---

लखीमपुर खीरी: मगरमच्छ द्वारा ग्रामीण को नाले में खींच ले जाने के बाद ग्रामीण की मौत हो गई थी। देर शाम को मृतक का शव बरामद हो सका था। ग्रामीणों का आरोप था कि इतनी बड़ी घटना होने के बावजूद विभाग का कोई अधिकारी मौके पर नहीं पहुंचा। जिससे उनमें खासा नाराजगी थी। आक्रोशित मृतक के परिजनों ने वनाधिकारियों के न आने तक शव का पंचनामा भरने से इंकार कर दिया था। बुधवार सुबह रेंजर घर पहुंचे और मृतक के परिजनों को पांच हजार की सहायता के साथ अन्य सहायता दिलाने के आश्वासन के बाद परिजन माने और शव का पंचनामा भरने के साथ पोस्टमार्टम के लिए भेजा।
बता दें कि मझगई थाना क्षेत्र के गांव नया पुरवा निवासी चौधरी पुत्र परवन नाले पर मछली पकड़ने गया हुआ था। इसी बीच नया पुरवा व चौरी के बीच में शारदा नदी के किनारे स्थित नाले से अचानक निकला विशालकाय मगरमच्छ ग्रामीण को दबोचते हुए उसे पानी में खींच ले गया था। सूचना मिलते ही थाना पुलिस व वन कर्मी मौके पर जा पहुंचे और ग्रामीणों के साथ अधेड़ की तलाश शुरू कर दी थी। देर शाम गांव वालों को मृतक का शव बरामद हो सका था। मृतक के परिजनों ने वन विभाग की टीम पर गंभीर आरोप लगाते हुए वन विभाग के अधिकारियों के न आने तक आगे की कार्रवाई से इंकार कर दिया था। बुधवार को रेंजर अंकित कुमार मृतक के घर पहुंचे और घटना के प्रति शोक संवेदना व्यक्त की। इस दौरान रेंजर ने परिजनों को हर संभव सहायता दिलाने का आश्वासन दिया। इतना ही नहीं रेंजर ने ग्रामीणों की मांग पर मगरमच्छ को रेस्क्यू कर दूसरी जगह छोड़ने की बात कही। रेंजर ने परिजनों को पांच हजार की सहायता दी और पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के दो माह के अंदर अन्य सहायता का आश्वासन दिया। रेंजर के आश्वासन से संतुष्ट होने के बाद परिजनों ने शव का पंचनामा भरवाते हुए पोस्टमार्टम के लिए रवाना किया।

दीप शंकर मिश्र"दीप":- संपादक

दीप शंकर मिश्र"दीप":- संपादक

पत्रकारिता जगत में एक ऐसा नाम जो निष्पक्ष पत्रकारिता के लिए जाना जाता है।

---Advertisement---
PT 2
PT 4
PT 3
PT 1
P Adv

Leave a comment