---Advertisement---

बाराती ज्यादा व डाली में सामान कम लाने पर अक्रोशित ग्रामीणों ने घेराबंदी करते हुए बारातियों की कर दी जमकर धुनाई।

---Advertisement---

लखीमपुर खीरी: थाना पढुआ अंतर्गत लखाही गांव निवासी रफीक अहमद के यहां शनिवार को दो पुत्रियों की बारात थी, एक बारात सिंगाही से आई थी जबकि दूसरी बारात जनपद बहराइच के थाना खैरी घाट के गांव बरूही टपरी से आई थी। रफीक के मुताबिक उसने लड़के पक्षों से 60-60 बराती लाने को कहा था। सिंगाही से जो बारात आई उसमें निर्धारित बारातियों से संख्या कम थी। इसलिए उनका स्वागत सत्कार के पश्चात निकाह कर दान दहेज देकर विदाई कर दी गई। उधर बहराइच के बरूही टपरी गांव से इरफान पुत्र इसराइल की आई बारात में निर्धारित बारातियों से कहीं दो गुना से भी अधिक बराती आए थे। और वधू के लिए डाली में सामान भी काफी कम लाया था। जिस बात को लेकर दोनों पक्षों में कहा सुनी के बाद बराती पक्ष के लोगों ने लड़की पक्ष के लोगों पर हमला कर दिया। लड़की पक्ष के लोगों को पिटता देख लखाही गांव में आक्रोश फैल गया और फिर लड़की पक्ष की तरफ से ग्रामीणों ने बारातियों की घेराबंदी करते हुए एक-एक बाराती को दौड़ा दौड़ा कर लात घूसों से जमकर पिटाई कर दिया। सूचना के बाद डायल 112 पुलिस के साथ ही चौकी इंचार्ज गौरव सिंह मौके पर पहुंचे और आक्रोशित ग्रामीणों को किसी तरह शांत कर दोनों पक्षों में सुला समझौता के बाद देर रात निकाह करवा कर बारातियों को विदा करवा दिया। घटना गांव में चर्चा का विषय बनी हुई है।

दीप शंकर मिश्र"दीप":- संपादक

दीप शंकर मिश्र"दीप":- संपादक

पत्रकारिता जगत में एक ऐसा नाम जो निष्पक्ष पत्रकारिता के लिए जाना जाता है।

---Advertisement---
PT 2
PT 4
PT 3
PT 1
P Adv

Leave a comment