---Advertisement---

मतदान के बाद प्रत्याशियों ने अगले दिन अपनों के साथ बिताई सुबह, हार-जीत की लगाई गणित।

---Advertisement---

लखीमपुर खीरी: मतदान के दूसरे दिन मंगलवार की सुबह प्रत्याशियों ने समर्थकों के साथ बिताई। सुबह से ही समर्थक पहुंचने लगे तो मतदान पर चर्चा शुरू हो गई और जातिगत आंकड़ों पर गणित लगने लगी। समर्थक हर प्रत्याशी को जीत का गुणा-भाग समझाते रहे। इसी बीच मौका मिला तो नहाने के बाद किसी ने घर में पूजा की तो किसी ने मंदिर जाकर दर्शन किए। कई दिनों तक चुनावी भाग-दौड़ के बाद प्रत्याशी सुकून में दिखे।
सुबह उठकर नहाया फिर चाय पीने के बाद अखबार देखा। फिर परिजनों से बातचीत की। इसी बीच समर्थक आने लगे और अपने क्षेत्र और बूथों का रुझान देने लगे। सभी प्रत्याशियों ने पूजा-अर्चना के बाद समर्थकों से मुलाकात व बातचीत करते हुए चुनाव का फीडबैक भी लिया।

मतदान के बाद मिली राहत

कई दिनों से चुनाव प्रचार व दर्जनों जनसभाओं को संबोधित करते करते सभी प्रत्याशियों ने अपनी भूंख प्यास सब त्याग दी थी। सोमवार को मतदान के बाद प्रत्याशियों के चेहरों पर थकान साफ तौर पर देखी जा रही थी मगर अगली सुबह ने सभी प्रत्याशियों को थोड़ी राहत दी क्योंकि ये सुबह सिर्फ चर्चाओं की सुबह थी न की कही कोई जनसभा या चुनाव प्रचार के जाने की सुबह थी।

मतदाता भी लगा रहा हार जीत के आंकड़े

वैसे तो हर मतदाता इस बार खासा उत्साहित दिखाई दिया परिणाम यह निकला कि लखीमपुर खीरी जिला वोट करने में सबसे अव्वल रहा। वहीं मतदान करने के बाद मंगलवार की सुबह गलियों, नुक्कड़, चौराहों, दुकानों हर जगह सिर्फ चुनावी चर्चा का माहौल देखने को मिला। सभी मतदाता हार जीत का आंकड़ा बताते नजर आए। होटलों पर भी चाय की चुस्कियों के साथ क्षेत्र के मुद्दों पर बात करते हुए जातिगत समीकरण के आधार पर अपना अपना गणित लगाते नजर आए।

दीप शंकर मिश्र"दीप":- संपादक

दीप शंकर मिश्र"दीप":- संपादक

पत्रकारिता जगत में एक ऐसा नाम जो निष्पक्ष पत्रकारिता के लिए जाना जाता है।

---Advertisement---
PT 2
PT 4
PT 3
PT 1
P Adv

Leave a comment