---Advertisement---

सिपाही ने खुद को क्राइम इंस्पेक्टर बताकर ग्रामीण से की लूट मुकदमा हुआ दर्ज।।

---Advertisement---

पीलीभीत: पूरनपुर कोतवाली से हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है। जहां पर सिपाही ने खुद को क्राइम इंस्पेक्टर बताकर नगर के ही एक युवक से करीब तीन हजार रुपए और मोबाइल लूट लिया। वहीं दूसरी तरफ जितेंद्र कुमार नाम के एक व्यक्ति ने थाने पर पूर्व में दर्ज कराए गए एक मुकदमे में बताया की उससे भी धोखाधड़ी कर और सीबीआई टीम का एक अधिकारी बात कर सरफराज नाम के व्यक्ति ने उसे जबर्दस्ती अपने खाते में ₹14000 ट्रांसफर करवाए थे। इसके बाद पूरनपुर के ढका निवासी कमर पुत्र मुन्ने ने बताया कि वह ब्लॉक रोड पर खड़ा था। तभी कार में सवार होकर चार लोग आए। और कमर से उसका मोबाइल और करीब तीन हजार रुपए ले लिए। वहीं जब कमर द्वारा इसका विरोध किया गया तो उनमें से एक ने अपने आप को क्राइम इंस्पेक्टर बताते हुए कमर की पिटाई लगा दी। दिन में ही यह घटना होने से पुलिस सकते में आ गई। वही सूचना मिलने पर पुलिस जांच पड़ताल में लग गई, जिसके बाद साजिशकर्ता कोतवाली में ही तैनात सिपाही रामू सिंह पुत्र देवेंद्र प्रताप निकला। वहीं पुलिस ने सिपाही सहित पूरनपुर के ही मोहल्ला रजागंज निवासी सरफराज पुत्र निसार को भी हिरासत में लेकर जब कड़ाई से पूछताछ की तो सारे घटनाक्रम का खुलासा हो गया। वहीं आरोपी रामू से लूट के रुपए और छिना गया मोबाइल भी बरामद किया है। शुक्रवार को पुलिस ने सरफराज, कल्लू उर्फ ताज मोहम्मद और सिपाही रामू सिंह सहित चार लोगों के खिलाफ लूट की रिपोर्ट दर्ज की है। इसके बाद सरफराज और सिपाही रामू सिंह को जेल भेज दिया गया है। वही जिस ब्रेज़ा कार से लूट की गई थी वह भी पुलिस ने देर शाम बरामद कर ली है। बताया जाता है की कार टैक्सी में भी चलती थी।

दीप शंकर मिश्र"दीप":- संपादक

दीप शंकर मिश्र"दीप":- संपादक

पत्रकारिता जगत में एक ऐसा नाम जो निष्पक्ष पत्रकारिता के लिए जाना जाता है।

---Advertisement---
PT 2
PT 4
PT 3
PT 1
P Adv

Leave a comment