---Advertisement---

लगातार भारी बारिश से नदियों का जलस्तर बढ़ा, शारदा से छोड़े गए पानी ने बढ़ाई बाढ़ की चिंता, अलर्ट जारी।

---Advertisement---

निघासन खीरी: लगातार बारिश और बैराजों से डिस्चार्ज किए जा रहे पानी से तराई क्षेत्र की नदियों में जलस्तर अनवरत बढ़ता जा रहा। नदियों का बढ़ता जलस्तर देख बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में रहने वाले लोग परेशान हैं। शारदा बैराज से करीब 136324 क्यूसेक पानी छोड़ा गया है।
ग्रामीणों के अनुसार नदियों का पानी लगातार बढ़ रहा है। उनका कहना है कि हम लोग सुरक्षित स्थानों को चिन्हित कर रहे हैं। उफनाई शारदा से किसानो की फसलें तो डूबने के कगार पर पहुंच चुकी हैं और कुछ गाँवों में बाढ़ का खतरा भी नजर आने लगा है। बाढ़ की चपेट में आने वाले गाँव बल्लीपुर, मुर्ग़ाहा, नौगवां, दौलतापुर, खमरिया, मदनापुर, लालबोझी, पुरैना, रानीगंज, झंडी, बरोठा, मूड़ाबुजुर्ग अदलबाद, ठाकुरपुरवा, बैलहा डीह, चंदनपुरवा, गौढ़ीपुरवा जैसे दर्जनों गाँवों में बाढ़ का खतरा मडराने लगा हैं। लगातार बारिश से सहमे हुए लोग ऊंचे स्थान की तरफ जाने की कोशिश में लगे हैं। लोगों का कहना है कि बारिश से नदी नाले पहले ही उफना चुके हैं, ऐसे में बैराजों से लगातार डिस्चार्ज पानी से किसी भी समय बड़ी मुसीबत आ सकती है। बढ़ते जलस्तर पर शासन प्रशासन अपनी नजर बनाए हैं और निरंतर अलर्ट मोड पर स्थिति का जायजा लेने पहुंच रहे है।

दीप शंकर मिश्र"दीप":- संपादक

दीप शंकर मिश्र"दीप":- संपादक

पत्रकारिता जगत में एक ऐसा नाम जो निष्पक्ष पत्रकारिता के लिए जाना जाता है।

---Advertisement---
PT 2
PT 4
PT 3
PT 1
P Adv

Leave a comment