---Advertisement---

एक पत्नी क्या कुछ नहीं कर सकती, अपने गलत कारनामों के चलते इस सीओ को शासन ने बनाया सिपाही।।

---Advertisement---

लखनऊ: एक पत्नी आखिर क्या कुछ कर सकती है इसका अंदाजा शायद उनके पति को नही होता। ऐसा ही कुछ हुआ यूपी के जनपद उन्नाव के सर्किल बीघापुर में तैनात एक सीओ के साथ जिन्होंने बड़ी होशियारी से छुट्टी लेकर अपनी एक लेडी पुलिसकर्मी दोस्त से मिलने का प्लान बनाया। कोई डिस्टर्ब न करे इसके लिए अपने सारे नंबर बंद कर लिए। लेकिन हुआ क्या पत्नी की चिंता ने उनकी पोल खोल दी वो भी सबके सामने।

Samsung ने लांच किया अब तक का सबसे सस्ता 5G फोन, गजब कैमरा क्वालिटी व धांसू फिचर्स।।

ये मामला है यूपी के जनपद उन्नाव में तैनात सीओ कृपा शंकर कनौजिया की है जो मूल रूप से गोरखपुर मंडल के एक जनपद के रहने वाले है। मामला दरअसल जुलाई 2021 का है सीओ कृपा शंकर कनौजिया जब छुट्टी लेकर अपनी पुलिसकर्मी दोस्त से मिलने एक होटल में पहुंचे तो अपने सारे नंबर बंद कर लिए। जिससे उनकी पत्नी को चिंता हुई और वह उन्नाव पहुंची जहां पता चला की सीओ साहब तो छुट्टी लेकर घर गए है तो पत्नी को अपने सीओ पति की जान को खतरा लगा जिससे वह एसपी उन्नाव से मिली।

रील्स बनाने की धुन में युवा बच्चे अपनी जान खतरे में डालकर कर रहे खतरनाक स्टंट, देखें वायरल वीडियो।।

अनहोनी के डर से एसपी उन्नाव ने सीओ का नंबर सर्विलांस पर लगाया तो पता चला की सीओ कृपा शंकर कनौजिया का नंबर कानपुर के एक होटल में जाकर बंद हो गया है। फिर क्या जब मामला उजागर हुआ तो सीओ कृपा शंकर कनौजिया चर्चा में आए थे। विभाग की छवि धूमिल करने के चलते इस पूरे मामले की रिपोर्ट शासन को भेजी गई और शासन ने इस पूरे मामले की समीक्षा के बाद एडीजी प्रशासन ने सिपाही से प्रमोट होकर सीओ बने कृपा शंकर कनौजिया को रिवर्ट कर फिर से सिपाही बना दिया है। इन्हे 26वीं वाहिनी पीएसी गोरखपुर में एफ दल में आरक्षी पद पर तैनात किया गया है।

मात्र रु०50 खर्च करने के बाद कर लें यह छोटा सा काम तो आपका कूलर भी देगा AC जैसी ठंडी हवा, देखें पूरा वीडियो।।

दीप शंकर मिश्र"दीप":- संपादक

दीप शंकर मिश्र"दीप":- संपादक

पत्रकारिता जगत में एक ऐसा नाम जो निष्पक्ष पत्रकारिता के लिए जाना जाता है।

---Advertisement---
PT 2
PT 4
PT 3
PT 1
P Adv

Leave a comment